Androids Mobile Aur Computer Ko Virus Se Kaise Bachaye In Hindi

Androids Mobile Aur Computer Ko Virus Se Kaise Bachaye 

Androids Mobile Aur Computer Ko Virus Se Kaise Bachaye

 Androids Mobile Aur Computer Ko Virus Se Kaise Bachaye In Hindi एंड्राइड मोबाइल को वायरस से कैसे बचाये आज हम जानेंगे आप अपने एंड्राइड मोबाइल और कंप्यूटर को वायरस से कैसे बचा सकते है। आज पुरे विश्व में वायरस का खतरा बड़े पैमाने पर फ़ैल रहा जिस पर काबू पाना बहुत मुश्किल होता जा रहा हैं, आज पूरी दुनिया के काम इंटरनेट के सहारे ही चल रहा है। यहाँ कोई भी इंसान बिना इंटरनेट के कोई काम नहीं कर सकता है जहां आपको आपकी जरुरत की सारी चीज़े मिल जाता हैं।

पर यह इंटरनेट की दुनिया इतनी भी आसान नहीं है जरा सी गलती और कई नुकसान उठाना पड़ सकता हैं जिसमे से सबसे पहला खतरे का नाम आता है वायरस। इस वायरस का आपके एंड्राइड मोबाइल से लेकर कंप्यूटर में आने का सबसे पहला माध्यम इंटरनेट ही हैं, यह वायरस आपके मोबाइल को हैंग कर सकता है आपके मोबाइल को स्लो कर देता है कई महत्वपूर्ण डाटा को डिलीट कर देता है।

इस वायरस के कारण आपके मोबाइल और कंप्यूटर में कई समस्या का सामना करना पड़ता हैं, जिसमे सबसे ज्यादा बुरा होता है आपके मोबाइल और कंप्यूटर का हैक होना। जिसमे आपके सोशल मीडिया अकाउंट से लेकर बैंक अकाउंट तक प्रभावित होता हैं, आपका पर्सनल फोटो, आपका बैंक अकाउंट, आपके कई सीक्रेट बिना आपके जानकारी के किसी दूसरे के पास चले जाते है। इन सब से बचने के लिए ही आज हम आपको यह बताएँगे की आप अपने Androids Mobile Aur Computer Ko Virus Se Kaise Bachaye. 

मोबाइल को वायरस से कैसे बचाये

1. एंटीवायरस इंस्टॉल करें 

सबसे पहले आपको अपने मोबाइल और कंप्यूटर में एक अच्छी और पेड एंटीवायरस को अपने सिस्टम  में इंस्टॉल करना होगा, इसके लिए आप मार्केट में जाकर या फिर ऑनलाइन खरीद सकते है। यह एंटीवायरस आपके सिस्टम को सुरक्षा प्रदान करते हैं, अगर आपके सिस्टम में कोई भी वायरस आएगा तो यह एंटीवायरस आपको सूचित करता है की आपके सिस्टम में वायरस है। इसी तरह अगर आप कोई गलत वेबसाइट पर जाते हैं या फिर पिक्चर, वीडियो या फाइल डाउनलोड करते है तो भी यह आपको सूचित करता है इसमें वायरस हैं जो आपके सिस्टम के लिए हानिकारक है इसे डाउनलोड न करें।

अगर फिर भी गलती से आपके मोबाइल या कंप्यूटर सिस्टम मे इंटरनेट के माध्यम से आ जाता है तो आपके सिस्टम में इनस्टॉल एंटीवायरस की मदद से आप उस वायरस को डिलीट कर सकते है। जिससे आपका सिस्टम वायरस से बचा रहेगा और आपका सिस्टम हैक होने से भी बच जायेगा, पर इस बात का ध्यान दें मार्केट में आपको कई तरह के एंटीवायरस मिल जायेंगे पर सभी एंटीवायरस अच्छे नहीं होते है। हम आपको कुछ महत्वपूर्ण एंटीवायरस के नाम बता रहे है जो आपके सिस्टम को पूरी तरह सुरक्षित रखेगा।

Also Read :
2. कही से भी डाउनलोड न करें
आज दुनिया  में कई लोग है जो इंटरनेट से जुड़े हुए हैं उन्हें कब किस चीज़ की जरुरत पड़ जाये कहा नहीं जा सकता, ऐसे में वे अपने जरुरत की चीज़े गूगल में ढूंढ़ते है जहाँ आपको आपकी जरुरत की सारी चीज़े मिल जाती है। पर सावधान यह इंटरनेट की दुनिया इतनी भी शरीफ़ नहीं की कोई आपको फ्री में कुछ दे दें।

अभी कुछ महीने की बात एक लड़के ने ऐसी ही गलती कि उसे अपने स्कूल प्रोजेक्ट के लिए कुछ फाइल इंटरनेट से डाउनलोड किया था। जो उसने गूगल में किसी वेबसाइट में बताया गया था पर आपको हैरानी होगी की उस फाइल में एक ऐसा वायरस था जिसे उसे पता ही नहीं था जिसे हैकिंग टूल भी कहते है। नतीजा यह हुआ उसका फेसबुक और  सोशल अकाउंट हैक हो गया।

इसलिए गूगल में मिलने वाले किसी भी चीज़ पर आंख बंद करके कोई फाइल, वीडियो, ऐप डाउनलोड न करें वरना आप कई मुश्किलों में फंस सकते हो। हमेशा पूर्ण जानकारी होने पर  फाइल, वीडियो, ऐप डाउन लोड करें अगर आपको ऐप इंस्टॉल करना है तो आप हमेशा गूगल प्ले स्टोर से ही करे और अगर कोई फाइल डाक्यूमेंट्स डाउन लोड करना है तो आप हमेशा ट्रस्टेड साइट से करें।

3. अंजान लिंक पर क्लिक न करें
आज इंटरनेट की दुनिया का सबसे लेटेस्ट तरीका है वायरस भेजने का वह है लिंक के द्वारा आपके मोबाइल या कंप्यूटर सिस्टम पर वायरस को भेजना और आपके पर्सनल इनफार्मेशन को चुराना। अगर आप इंटरनेट बैंकिग से सम्बंधित कार्य अपने मोबाइल या कंप्यूटर सिस्टम पर करते है तो यह आपके लिए बहुत ज्यादा घातक साबित हो सकता सकता हैं।

जो आपके मोबाइल और कंप्यूटर के सारे डाटा को धीरे धीरे बर्बाद कर देते है जिससे आपके महत्वपूर्ण फाइल, पिक्चर, वीडियो सब में वायरस का अटैक हो जाता है, और वह ओपन ही नहीं होता अंत में आपको उसे मजबूरन डिलीट करना पड़ता है। इसलिए आपके सिस्टम में किसी भी तरह का लिंक या खासतौर पर प्रलोभन देने वाला लिंक आये तो उसे भूल कर भी क्लिक न करे फ़ौरन डिलीट कर दे, यह आपके सिस्टम पर या सोशल मीडिया में ईमेल, मेसेज, वेबसाइट लिंक के द्वारा आपको भेजा जा सकता हैं।

4. फ्री एंटीवायरस इन्टॉल न करें
आज भी दुनिया में ऐसे लोग की कमी नहीं है जो इन सब के लिए पैसे खर्च नहीं करना चाहते वे तो बस अपने जुगाड़ से ही काम चलाना पसन्द करते हैं। ऐसे लोग हमेशा फ्री एंटी वायरस का इस्तेमाल करते है जो उन लोगो की सबसे बड़ी गलती है आप ऐसा कभी न करें, शायद आप यह सोचते है की कोई ब्रांडेड एंटीवायरस फ्री में मिल रहा है तो क्या न इसे ही डाउन लोड कर ले जिसके चलते आप कोई ब्रांडेड एंटीवायरस कही से भी डाउनलोड कर लेते है।

पर असलियत यह की यह ब्रांडेड एंटीवायरस एक फेक डुप्लीकेट एंटीवायरस हो सकता है जो हैकरों द्वारा ही बनाया जाता है इसमें एंटीवायरस नहीं बल्कि वायरस होता है और इसका आपको कोई फायदा भी नहीं होगा। जिसे अगर आप अपने मोबाइल या कंप्यूटर सिस्टम इनस्टॉल करते है तो यह आपके सिस्टम में आ जाता है और आपके सिस्टम को तो ख़राब करता ही है साथ ही आपके महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट, पिक्चर, वीडियो को भी डिलीट कर देते हैं इसलिए अगर आपको कोई एंटीवायरस चाहिए तो आप गूगल प्ले स्टोर से या उस एंटीवायरस के ऑफिसियल वेबसाइट पर ही जाकर ख़रीदे।

5. आपके सिस्टम को अपडेट रखें
 यह भी एक अच्छा तरीका का वायरस से अपने एंड्राइड फ़ोन या कंप्यूटर सिस्टम को बचाने का जो की करना बहुत जरुरी हैं। आपने कई बार नोटिस किया होगा की आपके मोबाइल में या कम्प्यूटर में एप्लिकेशन और सॉफ्टवेयर में Update Your  Application और अगर आप Pc या लैपटॉप उपयोग करते है।

उसमे भी यह नोटिफिकेशन बीच बीच में आते रहते है। बस आपको भी समय समय पर इन्हे अपडेट करते रहना चाहिए इसे कभी भी भी इग्नोर न करें यह आपके सिस्टम के सिक्योरिटी की लिहाज से काफी महत्वपूर्ण होता हैं।

6. एप्लिकेशन और सॉफ्टवेयर इन्टॉल करते समय ध्यान दें
इंटरनेट की दुनिया में कई लोग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में सक्रिय है जिसमे कुछ तो ट्रस्टेड एप्लिकेशन और सॉफ्टवेयर है पर सारे एप्लिकेशन और सॉफ्टवेयर पर भरोशा नहीं किया जा सकता हैं। इसलिए आप अपने एंड्राइड फ़ोन में या Pc या लैपटॉप में एप्लिकेशन और सॉफ्टवेयर इन्टॉल करते है तो उसके टर्म एंड कंडीशन अच्छे से पढ़ ले।

 ऐसा इसलिए क्योंकि कई एप्लिकेशन आपके कैमरा आपके मोबाइल गैलरी, और आपके सोशल मीडिया पर अपना एक्सेस करने की इज़ाज़द मागंते है पर आप कभी भी टर्म एंड कंडीशन को पड़ते नहीं I agree पर क्लीक कर देते है। जो आपके मोबाइल पर वायरस आने और हैकिंग का खतरा को बड़ा देता है इसलिए इन सबसे सावधान रहें और साथ ही आप कोई नॉन ट्रस्टेड साइट और एप्लिकेशन में अपना अकाउंट क्रिएट न करें।

7. पब्लिक पेन ड्राइव या सीडी का इस्तेमाल न करें
आपके सिस्टम में वायरस आने का यह भी एक जरिया है इसलिए आप कभी भी किसी अनजान लोगो के पेन ड्राइव, सीडी या चिप को अपने सिस्टम में न डाले, हो सकता है उस पेन ड्राइव, सीडी या चिप में कोई वायरस होगा। तो इसकी पूरी सम्भावना है की वह वायरस आपके एंड्राइड फ़ोन पर आ जायेगा जिसका क्या नुकसान होगा आप अच्छे से जान ही गए होंगे क्योंकि वायरस का काम ही होता है एक सिस्टम से दूसरे सिस्टम में ट्रांसफर होने की इसलिए तो इसे वायरस कहते है।

Also Read :
हम आशा करते है की आप सभी को हमारी यह महत्वपूर्ण जानकारीAndroids Mobiles Aur Computer Ko Virus Se Kaise Bachaye आपको पसंद आया होगा। और अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छा लगा हो तो नीचे Comments करके जरूर बताये।

साथ ही इस जरुरी जानकारी को अपने दोस्तों और परिवार में भी शेयर जरूर करे, अगर आपका किसी भी तरह का आपका मन में कोई सवाल है तो आप Comments करके पूछ सकते है, साथ ही हमसे जुड़ने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को भी लाइक कर सकते हैं।
Thanks For Reading...
Previous
Next Post »